logo

सर्वेषां भाषाणां जननी संस्कृत भाषा

संस्कृत सुरभारती अर्थात देववाणी जिसे विश्व की प्रथम भाषा होने का गौरव प्राप्त है तथा जो समस्त भाषाओं की जननी मानी जाती है ,यूनेस्को ने भी माना है कि संस्कृत श्लोक वाचन से छात्रों के मन , शरीर एवं आत्मा पर गहरा प्रभाव पड़ता है तथा स्मरण शक्ति बढ़ती है । अतः ऐसी दिव्य भाषा के संरक्षण और संवर्धन हेतु प्रयास करना आज के संदर्भ में महती आवश्यक है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Mojo May Summer Camp